महिला स्वावलंबन को लेकर सिलाई प्रशिक्षण केंद्र का किया गया उद्घाटन

0
34

महिलाओं को स्वावलंबी एवं आत्मनिर्भर बनाने को लेकर सोमवार को डाल्टनगंज शहर के कांदू मोहल्ला में उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने महिला सिलाई प्रशिक्षण सह उत्पादन केंद्र का उद्घाटन किया।इस मौके पर उपायुक्त ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि सिलाई केंद्र का उद्देश्य महिलाओं को सिलाई के माध्यम से स्वावलंबी बनाना है।इस केंद्र में प्रतिदिन तीस महिलाओं को सिलाई से संबंधित प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे महिलाएं आर्थिक रूप से सशक्त होगी।उन्होंने कहा कि ऐसे केंद्रों के स्थापित हो जाने से ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को रोज़गार से जोड़ा जासकेगा।

*रोजगार उपलब्ध करवाने में काफी उपयोगी साबित होगा यह केंद्र: उपायुक्त*

उन्होंने बताया कि यहां सभी महिलाओं को इलेक्ट्रॉनिक सिलाई मशीन से प्रशिक्षण दिया जायेगा प्रशिक्षण पूर्ण करने के उपरांत सभी महिलाओं को कोयल आजीविका ऐपारेल पार्क में रोजगार भी उपलब्ध कराया जायेगा।इसके साथ ही प्रशिक्षण प्राप्त कर चुकी सभी महिलाओं को बैंक से क्रेडिट लिंक करवा कर स्वयं के स्तर पर भी सिलाई के द्वारा आजीविका सुरक्षित की जाएगी।उन्होंने बताया कि यह प्रशिक्षण जेएसएलपीएस द्वारा प्रशिक्षित स्वयं सहायता की दीदियों के द्वारा दिया जायेगा।उन्होंने जेएसएलपीएस के डीपीएम को प्रशिक्षण केंद्र का संचालन सुचारू रूप से करवाने का निर्देश दिया।

*16 इलेक्ट्रॉनिक सिलाई मशीनों से प्रतिदिन 30 महिलाओं को दिया जाएगा प्रशिक्षण*

कांदू मोहल्ला स्थित इस केंद्र पर जिला प्रशासन द्वारा 16 इलेक्ट्रॉनिक सिलाई मशीनों की स्थापना की गई है। इन मशीनों के माध्यम से प्रतिदिन 30 महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा।इस केंद्र के माध्यम से प्रतिवर्ष तीन सौ से अधिक महिलाओं को प्रशिक्षित कर रोजगार से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।इस केंद्र के उद्घाटन के मौके पर उप विकास आयुक्त बिंदु माधव प्रसाद सिंह,जेएसएलपीएस के डीपीएम डी डी सिंह,जेएसएलपीएस के नवल किशोर राज सहित बड़ी संख्या में स्वयं सहायता समूह की दीदियां उपस्थित रहीं।

*========================*
*कोरोना वायरस टॉल फ्री हेल्पलाइन नंबर-1950*
*जिला नियंत्रण कक्ष हेल्पलाइन नंबरः-06562-222077*
*डाउनलोड करें : आरोग्य सेतु और झारखंड बाजार एप्प।*

*रात 9:00 बजे से प्रातः 5:00 बजे तक घर से बाहर निकलने पर पूर्णतया पाबंदी।*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here