कोरोना वायरस से बचाव के लिए जनजागरूकता आवश्यकः आयुक्त

0
76

आयुक्त, पलामू प्रमंडल बिनोद कुमार ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए जनजागरूकता आवश्यक है। इस संबंध में किसी भी प्रकार की भ्रांति अथवा अफवाह से बचने की जरूरत है। इस संबंध में भयाक्रांत होने का कोई मतलब नहीं है। इससे बचाव के लिए सुरक्षित प्रयास अपनाया जाना चाहिए, ताकि इसके संक्रमण से बचा जा सके। वे आज अपने कार्यालय कक्ष में कोरोना वायरस से बचाव के उपायों की समीक्षा कर रहे थे।

आयुक्त ने कहा कि प्रमंडलाधीन सार्वजनिक स्थलों जैसे- बस स्टैंड, रेलवे स्टेशनों पर संदिग्ध मामलों की जांच के लिए हेल्प सेंटर स्थापित करें, जहां सेनिटाइजर, स्प्रीट एवं अन्य आवश्यक संक्रमण रोधी दवाओं की उपलब्धता रहें। राज्य के मुख्य सचिव के द्वारा कोरोना वायरस के संबंध में दिये गये दिशा-निर्देशों के अनुपालन की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सजगता, सावधानी एवं निरोधात्मक उपाय जरूरी है। आयुक्त ने कल्याण विभाग द्वारा संचालित छात्रावासो, कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय एवं नवोदय विद्यालय में रह रहे अंतेवासियों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव की खातिर अपने-अपने घरों को भेजे जाने का निदेश दिया। जिन विद्यार्थियों की परीक्षा पूर्व निर्धारित है, उन्हें परीक्षा में आवश्यक रूप से शामिल कराया जाये।

उन्होंने नगर आयुक्त, पलामू सहित अन्य नगर निकायों एवं जिला परिषदों को निदेशित किया कि सार्वजनिक स्थानों पर स्वच्छता के सभी प्रतिमानों का पालन किया जाये। भीड़-भाड़ वाले स्थलों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे स्थलों पर कोरोना से बचाव के उपायों से संबंधित सूचनात्मक बोर्ड लगवायें जायें। उन्होंने खुलेआम बिक्री वाले चिकेन-मटन इत्यादि की दुकानों को बंद कराने का निदेश भी दिया।

उन्होंने कहा कि किसी कीमत पर मास्क, सेनिटाइजर इत्यादि की कालाबाजारी नहीं होनी चाहिए। कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निदेश उन्होंने संबंधित पदाधिकारियों को दिया। स्वास्थ्यकर्मियों को जिला एवं प्रखंड स्तर पर कोरोना वायरस से संबंधित प्रशिक्षण को अनिवार्य बताते हुए उन्होंने तत्काल कार्रवाई करने का निर्देश दिया। जिन स्थानों पर कुड़ा-कचरा का उठाव होता है, उन स्थानों पर विशेष सर्तकता बरतने का भी निर्देश दिया।

अनावश्यक अफवाह फैलाने वालों के विरूद्ध प्रशासन करेगा कड़ी कार्रवाई : उपायुक्त

पलामू के उपायुक्त डॉ0 शांतनु कुमार अग्रहरि ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पलामू जिले में किए जा रहे उपायों पर विस्तृत रूप से प्रकाश डालते हुए कहा कि सजगता और सतर्कता सबसे जरूरी है। लोगों से अपील की गयी है कि सोशल मीडिया में भांति-भांति की आ रही भ्रामक सूचनाओं से बचे एवं मात्र अधिकृत एवं प्रमाणिक जानकारियों पर ही विश्वास करें। उन्होंने कहा कि भ्रामक अफवाह फैलाने वालों एव फार्रवर्ड करने वालों पर पलामू जिला प्रशासन कड़ी कार्रवाई करेगा। उन्होंने कहा कि शहर के व्यवसायिक प्रतिष्ठानों, शॉपिंग मॉलों से भी कहा गया है कि अनावश्यक भीड़-भाड़ से परहेज करें एवं जरूरतमंद आने-जाने वाले लोगों के लिए पर्याप्त मात्रा में सेनिटाइजर/मेडिकेटेड टिशू पेपर इत्यादि की व्यवस्था अनिवार्य रूप से रखें। समाहरणालय सहित जिले के प्रमुख कार्यालयों में आने-जाने वाले लोगों के लिए ऐसी व्यवस्था रखी गयी है एवं स्वास्थ्य विभाग को 24 घंटे संभावित मरीजों के जांच एवं उपचार के लिए सतर्क रहने का निदेश दिया गया है।

बैठक में पलामू उपायुक्त डॉ0 शांतनु कुमार अग्रहरि, नगर आयुक्त दिनेश प्रसाद, आयुक्त के सचिव सुनील दत खाखा, पलामू सिविल सर्जन डॉ0 जॉन एफ केनेडी, कल्याण विभाग के उप निदेशक मतियस विजय टोप्पो, राज्यकर उपायुक्त विजय प्रताप देव,सदर अनुमंडल पदाधिकारी सुरजित कुमार सिंह,जिला शिक्षा पदाधिकारी उपेंद्र नारायण, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी बिजय कुमार ठाकुर एवं अरूण कुमार उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here