भारत ने रूस को कुछ इस तरह कर दिया पीछे

0
113

भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। अब वह सबसे अधिक केस के मामले में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है। भारत ने रविवार को रूस को पीछे छोड़ दिया है। अब दुनिया में सबसे अधिक केस अमेरिका में हैं। दुनिया के इस सुपरपावर नेशन में 29 लाख से ज्यादा केस हैं। अमेरिका के बाद ब्राजील, भारत और रूस का नंबर आता है। ब्राजील में 15 लाख से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। अमेरिका में भारत से चार गुना से ज्यादा केस हैं। ब्राजील में भारत से करीब दोगुने केस हैं। मौत के मामले में भी अमेरिका और ब्राजील की हालत दुनिया में सबसे खराब है।

भारत में कोविड-19 के केस रोज कुछ ना कुछ रिकॉर्ड बन रहे हैं। इस तरह अब देश में कुल 695,396 लाख केस हो चुके हैं। भारत में अबतक 19,662 मौतें हो चुकी है। इसके साथ ही भारत सबसे अधिक केस में रूस को पीछे छोड़कर तीसरे नंबर पर आ गया है। रूस में 681,251 लाख केस हैं। रूस में सोमवार को करीब 6700 केस आए।

भारत ने रूस को कैसे पछाड़ा
इस सवाल के जवाब के लिए हमें भारत और रूस के पिछले दो महीने के ट्रेंड्स पर नजर डालनी होगी। मई की शुरुआत में रूस में रोजाना करीब 8000-9000 केस आ रहे थे। भारत में उस वक्त रोजाना केस ढाई-तीन हजार के बीच आ रहे थे। यानी, रूस से करीब तीन गुना कम. रूस में मई में यह रफ्तार बढ़ी और फिर जून के उत्तरार्द्ध में घटने लगी। फिलहाल रूस में रोजाना 6500 के करीब केस आ रहे हैं। दूसरी ओर, भारत में केस तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले सप्ताह रोजाना करीब 20 हजार केस आए। नतीजा, भारत ने रूस को पीछे छोड़ दिया।

रूस में रिकवरी रेट बेहतर
रूस ने ना सिर्फ कोरोना केस की बढ़ती रफ्तार पर रोक लगाई है, बल्कि वहां का रिकवरी रेट भी भारत से बेहतर है। रूस में 4.50 लोग कोरोना से संक्रमित होने के बाद स्वस्थ हो चुके हैं। यानी, रूस में रिकवरी रेट 66% है। भारत में करीब 4.10 लाख लोग रिकवर हुए हैं और रिकवरी रेट 60% है। इसी तरह रूस में कोरोना के कारण जहां करीब 10 हजार लोगों ने जान गंवाई है, वहीं भारत में 19 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here