‘उज्ज्वला’ के बावजूद चूल्हे के धुएं से आजादी नहीं महिलाये

0
36

लोकसभा चुनाव में मोदी की लहर नहीं सुनामी थी. भाजपा जीती और प्रचंड बहुमत से जीती. कई रिकॉर्ड टूट गए. देशभर में मोदी का डंका बजने लगा. जीत के बाद विशेषज्ञों ने कहा कि मोदी के विकास के आगे सब कुछ फेल है. उनकी योजनाओं की खूब वाहवाही हुई और उसमें उज्ज्वला योजना को महत्वपूर्ण फैक्टर माना गया. लेकिन एक ताजा रिपोर्ट कुछ और ही जमीनी हकीकत बयां कर रही है. सरकार ने दावा किया था कि उज्ज्वला योजना के तहत गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले 8 करोड़ लोगों को फ्री एलपीजी कनेक्शन बांटे गए. इसका क्रेडिट प्रधानमंत्री को दिया गया. पीएम मोदी खुद प्रचार के दौरान रैलियों में इसका बखान किया. उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना से गांव की महिलाओं को राहत मिली है. उन्हें घरेलू वायु प्रदूषण से मुक्ति मिल गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here